You Can You Will Book Summary in Hindi by Joel Osteen

दोस्तों इस लेख (You Can You Will Book Summary in Hindi by Joel Osteen) के माध्यम से में आपसे आज Joel Osteen की बुक You Can, You Will: 8 Undeniable Qualities of a Winner की समरी आपसे साझा करूँगा। तो बिना किसी देरी की करते है काम की बात ।

You Can You Will Book in Hindi by Joel Osteen

You-Can-You-Will-Book-Summary-in-Hindi-by-Joel-Osteen

You Can You Will Book Summary in Hindi Joel Osteen

आपके क्या लक्ष्य है ? आपने अब तक क्या हासिल किया ? जीवन के प्रति आपका क्या नजरिया है ? इन्ही सब बातो से निर्धारित होगा कि सही अर्थो में जिंदगी के मायने आखिर क्या है ?

अपना लक्ष्य अपने सामने रखे

ये बात अध्ययन  में सामने आई है कि जब आप किसी चीज़ को बार-बार देखते है तो वो चीज़ आपके अवचेतन (subcnscious) मन में बैठ जाती है। मगर कई बार ऐसा भी होता है कि आप अपनी पूरी काबिलियत नहीं दिखा पाते। ऐसा इसलिए नहीं कि आप काबिल नहीं है या उतने स्मार्ट नहीं है, बल्कि इसलिए क्योंकि आपने अपनी आंखो के सामने गलत चीज़ रखी है।

कुछ ऐसा चुनिए जो आपके सपने से मेलखाता हो, नकारात्मक विचारों को  कभी भी खुद पर हावी मत होने दीजिये, हो सकता है किसी दिन आप एक बहुत ही तंदुरुस्त व्यक्ति को देखे और खुद से कहे कि मै तो ऐसा कभी भी नहीं बन सकता या फिर आप एक बड़ा सा शानदार मकान देखकर अपने से कही कि मै कभी भी ऐसा कुछ नहीं खरीद सकता।

इन नकारात्मक विचारों का आपकी सफलता पर गहरा असर पड़ता है क्योंकि वो आपको आगे बढ़ने से रोकती है, आपके नज़रिए को सिमित कर देती है इसलिए आपको अपना नजरिया बदलना पड़ेगा । एक बार एक आदमी था जो हमेशा से ही एक कलाकर बनने के सपने देखता था मगर वो अन्दर से टूटा और बेमकसद था। उसका परिवार इतना गरीब था कि वो लोग वैन में रह रहे थे ।

एक दिन वो अपनी पुरानी गाडी से एक पहाड़ की चोटी पर पंहुचा और नीचे झाँक कर देखा। उसने कुछ ऐसा किया जिसके बारे में उसने कभी सोचा भी नहीं था वो गाडी से उतरा और खुद के लिए एक दस मिलियन डॉलर का चेक लिखा, अपनी अभिनय सेवा के लिए। बारह साल बाद वो नौजवान था जिम कैरी, जो अब अपनी हर फिल्म के लिए पंद्रह से पच्चीस मिलियन डॉलर कमा रहा था।

अपनी रेस खुद दौड़ो ।

आपकी रोज़मर्रा की जिंदगी में ऐसे कई लोग होंगे जो आपकी जिंदगी को नियंत्रित करने की कोशश करते होंगे। उनका इरादा नेक हो सकता है मगर अपनी जिंदगी को नियंत्रित करने वाले सिर्फ आप होने चाहिए। आपको अपनी रेस खुद ही दौड़नी पड़ेगी। अगर आप अपनी सफलता की कहानी नहीं लिखेंगे तो कोई दूसरा लिख लेगा और फिर आपके लिए कुछ नहीं बचेगा।

किसी ने एक बार कहा था कि जब आप 20 के होते हो तो आपको ये फ़िक्र रहती है कि सब आपके बारे में क्या सोचते है मगर 40 में आप ये परवाह करना छोड़ देते तो और 60 में आपको पता चलता है कि कोई आपके बारे में तो सोच ही नहीं रहा था। तो खुद को लोगो की राय से मुक्त रखिये तभी आप सही मायनों में पूरी तरह से आज़ाद हो सकेंगे।

हमेशा अपनी जिंदगी का एक लक्ष्य रखिये। इस बात के लिए तैयार रहे कि हो सकता है कि इस लक्ष्य को पूरा करने की यात्रा में कुछ लोग आपका साथ ना दे, आपसे दूर हो जाए तो भी परवाह मत कीजिये। सबको खुश रखना नामुमकिन है, चाहे आप जो मर्ज़ी कर लीजिये। एक बहुत पुरानी कहानी है, एक दादा और पोते की। एक बार एक दादा अपने पोते को अपने गधे पर बैठाकर कहीं ले जा रहा था। कुछ दूर जाने पर लोग उन्हें देखते है, तो कहते है कि देखो ये पोता कितना स्वार्थी है, खुद तो गधे के ऊपर बैठा है और अपने बूढ़े दादा को पैदल चलने पर मजबूर कर रहा है।

लोगो की बाते सुनकर दादा परेशान हो जाता है। वो अब पोते को उतार कर खुद गधे की सवारी करने लगता है। मगर कुछ आगे जाने पर फिर से कुछ लोग उन्हें देखकर कहते है अरे दादा तो बड़ा मतलबी है जो खुद अकेले गधे की सवारी कर रहा है और बेचारे पोते को पैदल चला रहा है।

लोगो की बातो से परेशान होकर दादा इस बार पोते को भी अपने साथ गधे पर बैठा लेता है। मगर इस बार भी लोग उन दोनों को भला बुरा बोलने लगते है कि दादा-पोता कितने निर्दयी है जो दोनों उस गधे पर बैठकर उस पर अपना सारा बोझ डाले हुए है।

इस कहानी का सार ये है कि आप चाहे जो भी कर ले फिर भी सबको एकसाथ खुश नहीं रख सकते। कुछ लोग फिर भी आपकी आलोचना करते रहेंगे। तो बजाये सबकी परवाह करने के अपना एक लक्ष्य खुद ही चुनिए और उस पर डटे रहिये जब तक सफलता नहीं मिल जाती।

You Can You Will Book Summary in Hindi

You-Can-You-Will-Book-Summary-in-Hindi-by-Joel-Osteen

You Can You Will Book Summary Joel Osteen

अपने जीवन में अच्छी चीजों की उम्मीद कीजिये

जब आप अपने लिए बेहतर चीजों की आशा करते है तो वो बेहतर चीज़े खुद-ब-खुद आपको मिलती है। लेकिन जब आप बार-बार निराशाजनक बाते सोचेंगे तो क्या होगा ? ज़ाहिर है वही निराशा आपके जीवन में आएगी। क्योंकि आप जो सोचते है वही आपके साथ होता है।

हर सुबह ये सोच कर उठिए कि आज आपका दिन बहुत ही शानदार गुजरने वाला है। इस सोच के साथ दिन की शुरुवात करेंगे तो पायेंगे कि जो आपने सोचा था वही आपको मिल रहा है।

अगर आप किसी परीक्षा के लिए जा रहे है तो उम्मीद कीजिये कि आप उसमे बहुत अच्छा करने वाले है। ऐसा सोचने से ना सिर्फ आपका हौसला बढेगा बल्कि आपमें एक नए उत्साह का संचार भी होगा।

कुछ लोग हमेशा ही निराशा से घिरे रहते है। वे अपने बारे में कभी कुछ अच्छा सोच ही नहीं पाते। अपने दिमाग को आप एक टीवी सेट की तरह समझिये जिसमे बहुत से चैनल है। कुछ चैनल आपकी मधुर यादो से जुड़े है तो कुछ कडवी यादो से।

अब इस टीवी का रिमोट अपने हाथ में रखिये। जो यादे आपको ख़ुशी और उत्साह से भर देती है केवल उन्ही यादो का चैनल अपने दिमाग में चलने दे। इन मीठी यादो को बार बार याद कीजिये। ठीक वैसे ही जैसे आप सिनेमा हाल में मज़े से बैठकर पॉपकॉर्न और सोडा के साथ अपनी मनपसंद फिल्म देखते है।

वो वक्त याद कीजिये जब आपको लगता था कि आपके साथ सब कुछ गलत ही गलत हो रहा है और फिर उसके कुछ दिनों बाद ही अचानक आपकी स्तिथि में सुधार होने लगता है। आप ये सोच कर हैरान हो जाते है कि किस तरह से उपरवाले ने आपके लिए कठिन स्तिथि में भी रास्ता ढूंढ ही निकाला है।

याद कीजिये ऐसे कई निराशा भरे पल जब आप खुद से ही ये कहते है मै कभी भी इस मुसीबत से नहीं निकल पाऊंगा। आप बस इसी दुःख में रहते है और फिर आप उस मुश्किल हालात को ऐसे पार कर लेते है जैसे कि वो कोई बड़ी बात थी ही नहीं।

सकारातमक सोच रखे

कल्पना कीजिये कि आप एक गाडी चला रहे है जिसका सारा नियंत्रण आपके हाथो में है। आप चाहे तो उसे आगे ले जाए या पीछे मगर उसके लिए ताकत बराबर ही लगेगी। है ना?? ठीक उसी तरह हमारी जिंदगी की गाडी भी चलती है। अब ये आपके हाथ में है कि आप उसे अपने सकारातमक विचारों से आगे बढाए या फिर नकारात्मक विचारों से भर कर कामयाबी की दौड़ में बहुत पीछे रह जाए।

हम में से बहुत से लोग ऐसे है जो अपनी हर असफलता का दोष परिस्तिथियों पर डाल देते है। मगर ये सारे बहाने है सफलता हासिल ना कर पाने के। आप खुश रहेंगे या दुखी, ये निर्भर करता है परिस्तिथियों से निबटने की आपकी सोच पर। परिस्तिथिया कभी भी मुख्य कारण नहीं होती, कारण बनते है हमारे अपने विचार।

जो बाते आपके नियंत्रण से बाहर है उन्हें कभी भी अपनी खुशियों या नाखुशी की वजह मत बनने दीजिये और ना ही इस बात को कि लोग आपके साथ कैसा व्यवहार करते है, जो चीज़े आपके वश में नहीं है उन्हें स्वीकार करना सीख लीजिये। कुछ बाते, परिस्तिथिया कभी नहीं बदलती… तो बेहतर है उनके बारे में परेशान होना छोड़ दिया जाए।

जीतना आपके खून में शामिल है क्योंकि उपरवाले ने आपको जीतने के लिए ही बनाया है ना कि एक मामूली जिंदगी जीने के लिए। भविष्य में क्या होने वाला है ये तो कोई भी नहीं जानता। लेकिन फिर भी इस बात पर पूरा यकीन करते है कि उपरवाले ने आपके लिए कुछ बेहतर ही सोचा होगा।

अब अगर इसके बावजूद भी किसी कारण आप मनचाहा प्राप्त नहीं कर पाते तो भी निराश मत होइए और ये कहना शुरू मत कीजिये कि मुझे तो पहली ही पता था कि कामयाबी मेरे नसीब में नहीं है बजाये इसके आप ये कहिये शायद भगवान् की कुछ और इच्छा होगी, शायद उसने मेरे लिए कुछ बेहतर सोचा होगा।

You Can You Will Book Summary in Hindi by Joel Osteen

You Can You Will Book Summary in Hindi by Joel Osteen

अपना बेहतरीन देने की कोशिश करे

एक एवरेज इंसान बनकर रहने के बजाये सबसे बेहतर बनने का प्रयास करे। एक आम इंसान बनकर रहना भूल जाए। आप आम जिंदगी जीने के लिए पैदा नहीं हुए है। हमेशा कोशिश करे कि आप अपना बेहतरीन दे।

ये ज़रूरी नहीं कि हर बार अपने मकसद में आप सफल रहे फिर भी आपको तस्सली होगी कि आपने बेहतरीन करने की कोशिश की। जो आपसे उम्मीद है उससे बढ़कर कीजिये। इसके लिए आप अपने लक्ष्य को अपने सामने रख सकते है और फिर एक सकारात्मक रवैये के साथ अपनी जीत का विश्वास कीजिये। उन बातो को अमल में लाये जो आपको मंजिल तक पहुचने में मदद करेंगी।

कोशिश कीजिये अपने रोजाना समय से 10 मिनट पहले उठने की, काम पर 5 मिनट पहले पहुचिये। सफलता और काम में तरक्की हासिल करने का यही एक रास्ता है। आज जिस दौर में हम रह रहे है वहां प्रतिस्पर्धा इतनी अधिक है कि अगर हम कड़ी मेहनत नहीं करेंगे, नयी चीज़े नहीं सीखेंगे, खुद में सुधार नहीं लायेंगे तो सफलता की इस दौड़ में बहुत पीछे रह जायेंगे।

हर रोज़ सोने से पहले अपने पूरे दिनभर को याद कीजिये। खुद से सवाल करे ”क्या मै साधारण हूँ या कुछ बेहतर करने की कोशिश कर रहा हूँ” ।

ये भी पढ़ें: CAREER MEIN SAFALTA KE 21 MANTRA BOOK SUMMARY IN HINDI

सेवा करे

सेवा करने से मतलब सिर्फ आपके दोस्त या सहयोगी ही नहीं है बल्कि वो तमाम लोग है जो आपकी जिंदगी में शामिल है। जैसे कभी अपनी पत्नी की घर साफ़ करने में मदद कीजिये, उसके लिए बर्तन साफ़ कर दीजिये, कपडे धोकर सुखाइए, बिल भर दीजिये, लॉन की सफाई कर दीजिये। क्योंकि वो आपकी पत्नी है तो आपका फ़र्ज़ है उसे सहयोग दीजिये। अगर आप ये सोचते है कि घर का काम सिर्फ पत्नी करेगी और इसलिए ही शादी की जाती है, तो आपको पत्नी की नहीं एक नौकरानी की ज़रुरत है।

आप काम के लिए तो किसी को भी पैसे देकर रख सकते है मगर अपनी जिंदगी के सुख दुःख बाँटने के लिए आपको एक जीवनसाथी चाहिए। किसी दिन सुबह उससे पहले उठकर उसके लिए नाश्ता बना दीजिये, उसकी तारीफ़ कीजिये कि वो कितनी मेहनत करती है, उसे बताईये कि आप उसे कितना प्यार करते है।

यकीन मानिए वो ख़ुशी से झूम उठेगी और बदले में आपको भी ढेर सारी खुशियाँ देगी।

उत्साही रहे

खुद से एक सवाल कीजिये “क्या मै जीवित हूँ ?” इस बात का मतलब सिर्फ जिंदा रहने और खाना खाने से नहीं है। इस बात को गहरे से सोच कर देखिये, कि आपके क्या लक्ष्य है ? आपने अब तक क्या हासिल किया ? जीवन के प्रति आपका क्या नजरिया है ? क्योंकि इन्ही सब बातो से निर्धारित होगा कि सही अर्थो में जिंदगी के मायने आखिर क्या है ?

अध्ययन से पता चला है कि जोशीले लोग हमेशा बेहतर कार्य करते है, औरो की तुलना में उनकी तरक्की भी जल्दी होती है और ज़्यादातर वो खुशहाल जीवन जीते है।आपको अपने जीवन में एक जोश की ज़रुरत है जो आगे बढ़ने के लिए बहुत ज़रूरी है। अगर आपके पास बहुत अधिक नहीं है तो भी उपरवाले का धन्यवाद करते हुए हर पल को जोश के साथ जिए। आप जिंदा है, बिना तकलीफ आपकी साँसे चल रही है, आप चल सकते है, देख सकते है, सोच सकते है और तंदुरुस्त है, तो क्या ये सब काफी नहीं है उपरवाले का शुक्रिया अदा करने के लिए ।

एक 40 वर्षीया महिला की ओपन हार्ट सर्जरी हुई। सर्ज़री हो जाने के बाद उस महिला का दिल नहीं धड़का। यहाँ तक कि ख़ास दवाईयों का भी असर नहीं हुआ। सर्जन ने हरसम्भव कोशिश की मगर वो दिल को दुबारा धडकाने में असफल रहा। वो इसे मरीज़ का भाग्य समझकर हार मानने ही वाला था कि उसने एक अंतिम बार कोशिश की। वो उस महिला के कानो में फुसफुसाया” मै तुम्हारे लिए वो सब कुछ कर चूका हूँ जो मेरे हाथ में था। अब मै चाहता हूँ कि तुम अपने दिल को धडकने के लिए बोलो सर्जन के ऐसा कहते ही अचानक जैसे एक चमत्कार हुआ।

महिला के दिल ने धडकना शुरू कर दिया। ये उस महिला के विश्वास की ही शक्ति थी जिसने उसे दुबारा जीवन दिया।

Closing Remarks:

तो दोस्तों इस आर्टिकल में बस इतना ही आपको ये आर्टिकल कैसी लगी हमें कमेन्ट कर के जरूर बताये। अगर आप इस बुक का कम्पलीट वीडियो समरी देखना चाहते है तो ऊपर दिए लिंक से देख सकते है। लेटेस्ट वीडियो को देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करना न भूले।

यदि आपके पास हिंदी में कोई article, business idea, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी Id है: storyshala@gmail.com पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ पब्लिश करेंगे।

अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आपका तहे दिल से शुक्रिया

Wish You All The Best

BUY BOOK

S.K. Choudhary

नमस्कार दोस्तों, हमारे इस ब्लॉग में आपका स्वागत है, मेरा नाम है S.K. Choudhary (ऐस. के. चौधरी) और मैं एक ब्लॉगर और यूटूबर हूँ। में एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता हूँ और मेरा highest एजुकेशन MBA Finance है। मुझे पढ़ने और पढ़ाने का शोख है इसलिए में पार्ट टाइम मैं ब्लॉग लिखता हूँ और यूट्यूब के लिए बुक समरी और मोटिवेशनल वीडियो बनता हूँ।

Leave a Comment