Apne Lakshya ko Kaise hasil kare | अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें

Apne Lakshya ko Kaise hasil kare

अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें

अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें? दुनिया में ऐसा कुछ भी नहीं है जो आप हासिल नहीं कर सकते-बस एक बार मन में यह ठानने की देर है कि इसे हासिल कर सकते हैं।

किसी भी लक्ष्य को कैसे हासिल करें किसी भी लक्ष्य को तय करने और उसे हासिल करने के लिए सात क़दमों का रास्ता है, जिसे आप किसी भी परिस्थिति में, बार-बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

तय करें कि निश्चित तौर पर आप चाहते क्या हैं

ज़िंदगी में लोग अपना ज़्यादातर वक़्त ऐसे वर्क को दे देते हैं, जिनकी इम्पोर्टेंस बिलकुल नहीं होती है। एक्चुली लोगों को पता ही नहीं होता कि उनको करना क्या है। अगर आपका गोल क्लियर हो जाएँ, तो आपकी टाइम मैनेजमेंट करने की क़ाबिलियत बढ़ जाती है।

अपने समय का सही इस्तेमाल करने के लिए खुश से सवाल पूछिए, “क्या यह काम मुझे मेरे द्वारा निर्धारित लक्ष्य की ओर ले जा रहा है?” अगर जबाब हाँ है तो यह समय का सदुपयोग है। अगर ना है, तो यह समय का दुरुपयोग है।

जब आप ऐसे काम करने के आदी हो जाते हैं, जो कि आपको अपने लक्ष्य की ओर बढ़ने में मदद करते हैं तो आपकी ज़िंदगी में एकाएक नई जान-सी आ जाएगी। आप जल्द ही पाएँगे कि अपनी ज़िंदगी के हर घंटे हर पल आप जो भी काम कर रहे हैं वह आपके लिए किसी न किसी तरह से मददगार साबित हो रहा है।

जब आप अपने लिए स्पष्ट लक्ष्य तय करते हैं और यह भी जानते हैं कि आप क्या चाहते हैं, तो आप ऐसी गतिविधियों को लेकर विचलित होने लगेंगे, जो कि आपको मदद नहीं कर रही हैं। आप कम टेलीविज़न देखेंगे। आप कम रेडियो सुनेंगे। आप अख़बार को या तो जल्दी से पढ़ लेंगे, या पढ़ेंगे ही नहीं। आप केवल ऐसे लोगों के ही साथ वक़्त बिताना पसंद करेंगे, जिनसे आप सीख सकते हैं या कुछ लाभ पा सकते हैं।

Kisi bhi lakshya ko achieve kaise kare

अपने लक्ष्य लिख लें एक काग़ज़ पर अपने लक्ष्य लिख लीजिए।

आपके दिमाग़ और हाथों के बीच बात होती है। जब आप क़लम और काग़ज़ लेकर अपने लक्ष्यों को लिख डालते हैं, तो आप अपनी धारणाओं को मज़बूत करके अपने इस यक़ीन को और दृढ़ कर लेते हैं कि आप अपने द्वारा स्थापित लक्ष्यों को हासिल कर सकते हैं।

लक्ष्यों को केवल लिख डालने से आपको उन पर नियंत्रण और आत्मशक्ति का एहसास हो जाता है। आपके केवल अपने लक्ष्यों को लिख भर देने से उनको हासिल किए जाने की संभावना दस गुनी-एक हज़ार फ़ीसदी बढ़ जाती है।

क़ीमत चुकाने के लिए तैयार रहें

वह क़ीमत तय कीजिए जो कि आप अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए चुका सकते हैं। उन सभी बातों की लिस्ट बनाइए जो आपको अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए करना पड़ेगा।

हो सकता है सुबह आपको जल्दी उठना पढ़े, ज़्यादा मेहनत करनी पड़ेगी, ज़्यादा देर तक काम पर रुकना पड़ेगा? या फिर आपको अपने नॉलेज और स्किल्स को बढ़ाना पड़े और अतिरिक्त कोर्स करना पड़ें? , इसे लिख लीजिए।

उस हर बात के लिए जो आप चाहते हैं, आपको क़ीमत चुकानी पड़ती है। यह क़ीमत पूरी और पहले ही चुकानी पड़ेगी। आपको कुछ पाने से पहले कुछ देना ही पड़ेगा। आपकी लक्ष्य को हासिल करने की तड़प का अंदाज़ा इस बात से लगाया जाता है कि आप उसके लिए कितनी क़ीमत चुकाने के लिए तैयार हैं, कितनी दूरी तय करने को तैयार हैं

विस्तृत योजना बनाएँ लिखित में योजना बनाएँ।

याद रखिए, लक्ष्य लिखकर उन्हें हासिल करने की योजना बनाने की क़ाबिलियत कामयाबी का मास्टर प्लान है। योजना कि शुरुआत आपके द्वारा हर उस बात और काम की सूची तैयार करने से होती है, जो आपकी राय में लक्ष्य हासिल करने के लिए ज़रूरी होगी।

एक बार आपने सूची तैयार कर ली तो फिर आप उसमें वक़्त के साथ और भी बातें जोड़ सकते हैं। फिर आप अपनी सूची को प्राथमिकता के हिसाब से क्रमबद्ध कर सकते हैं। कार्ययोजना बना लेने से आपको सफ़र का रास्ता मिल जाता है।

यह आपके यक़ीन को बढ़ाकर लक्ष्य को हासिल करने की आपकी इच्छा को और अधिक मज़बूत कर देगा। धीरे-धीरे आपको यक़ीन हो जाएगा कि आपका लक्ष्य वास्तविक है और आप इसे हासिल कर सकते हैं।

अपनी योजना पर काम शुरु करें

अपने लक्ष्य की दिशा में कोई क़दम उठाओ। एक बार आपने लक्ष्य तय कर लिया, उसे लिख लिया, वह क़ीमत तय कर ली जो आप चुकाने के लिए तैयार हैं, एक योजना बना ली, अब आपको तत्काल कोई क़दम उठाना चाहिए।

भले ही, आप एक फ़ोन करें या फिर थोड़ी-सी जानकारी हासिल कर सकें, निश्चित ही कुछ तो करिए। आपके क़दम उठाते ही जैसे मानो पूरी दुनिया में अन्य सभी शक्तियाँ एकाएक जागृत हो जाती हैं। आप अपनी मदद के लिए आकर्षण के नियम को सक्रिय कर देते हैं।

जब आप कोई क़दम उठाते हैं, तो आप ख़ुद को और अन्य लोगों को बताते हैं कि आप वाक़ई अपने लक्ष्य को लेकर गंभीर हैं।

हर दिन कुछ करें

हर दिन ऐसा कोई काम करें जो कि आपको आपके सबसे महत्त्वपूर्ण लक्ष्य की ओर ले जाता हो। यह कामयाबी का एक ऐसा महत्त्वपूर्ण सिद्धांत है, जो कि आपमें ऊर्जा और उत्साह का संचार कर देता है।

आपको अपने साहस, आत्मविश्वास और स्वप्रेरणा को बनाए रखने के लिए, हर रोज़ कुछ न कुछ करना होगा, जो कि आपको आगे बढ़ने और तरक्क़ी करने का एहसास कराता रहे।

आपका काम ख़ुद को एक ऐसे मुक़ाम पर ले आना है, जब आपको वास्तव में ऐसा महसूस होने लगेगा कि आपको कोई भी नहीं रोक सकता। ऐसा करने के लिए केवल एक ही रास्ता है कि आप रुकने से इंकार कर दें, हर रोज़ कुछ करें।

कभी हार न मानें

पहले ही यह फ़ैसला कर लें कि एक बार लक्ष्य की ओर चलना शुरू करने के बाद आप कभी भी हार नहीं मानेंगे।

आपको चाहे जितने झटके लगें या कितनी भी बाधाएँ आएँ, तय कर लीजिए कि आप ख़ुद का उत्साह बढ़ाते रहेंगे और तब तक प्रयास करेंगे, जब तक कि आप कामयाब नहीं हो जाते।

प्रयासों में जुटे रहने का संकल्प पहले ही कर लेने से, किसी भी मुश्किल में, आपको मनोवैज्ञानिक लाभ की स्थिति तो हासिल हो ही जाती है। जब परेशानी आएगी भी, तो आप उससे बचने के प्रयास की बजाय उससे निपटने के लिए तैयार रहेंगे।

आपकी इच्छा और जुटे रहने की लगन ही आख़िरकार आपकी कामयाबी को तय करेगी। ध्यान रखिए कि आज का लगभग हर अमीर व्यक्ति कभी ग़रीब था। इनमें से अधिकांश की शुरुआत बहुत कम पैसे या बिना पैसे के ही हुई थी।

अपनी सोच को बदलकर उन्होंने अपने भीतर छिपी संभावनाओं का इस्तेमाल करते हुए असाधारण वित्तीय सफलताएँ हासिल कीं और हर वह बात जो कि दूसरों ने की है, आप भी कर सकते हैं। आप शुरू करें और काम होकर रहेगा।

ये भी पढ़ें :

तो दोस्तों इस आर्टिकल में बस इतना ही आपको ये नीति कैसी लगी हमें कमेन्ट कर के जरूर बताये। अगर आप इस बुक का कम्पलीट वीडियो समरी देखना चाहते है तो ऊपर दिए लिंक से देख सकते है।

हमारे लेटेस्ट वीडियो को देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करना न भूले।

Kisi bhi lakshya ko achieve kaise kare

Kisi bhi lakshya ko achieve kaise kare

S.K. Choudhary

नमस्कार दोस्तों, हमारे इस ब्लॉग में आपका स्वागत है, मेरा नाम है S.K. Choudhary (ऐस. के. चौधरी) और मैं एक ब्लॉगर और यूटूबर हूँ। में एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता हूँ और मेरा highest एजुकेशन MBA Finance है। मुझे पढ़ने और पढ़ाने का शोख है इसलिए में पार्ट टाइम मैं ब्लॉग लिखता हूँ और यूट्यूब के लिए बुक समरी और मोटिवेशनल वीडियो बनता हूँ।

Leave a Comment