The Alchemist Book Summary in Hindi

The Alchemist Book Summary in Hindi

The Alchemist Book Summary in Hindi

The Alchemist Book Summary in Hindi

The Alchemist Book Summary in Hindi : यह अंडलूसिया के रहने वाले सेंटियागो नाम के गड़रिये की कहानी है, सेंटियागे की फेमली चाहता था कि वह एक प्रीस्ट बने लेकिन उसे ट्रेवल करने का बड़ा शौक था इसलिए वह एक शेफर्ड बन गया ताकि वह अपनी शीप्स के साथ हमेशा घूमता रहे।

एक बार वह भेड़े चराते हुए अपनी भेड़ों का उन बेचने के लिए एक व्यापारी के पास पहुँचा जहाँ उसका एक काली बालो वाली सुंदर लड़की से उसकी मुलाकात हुई जोकी उस व्यापारी की बेटी थी। सेंटीयागो को वह लड़की बहुत अच्छी लगती थी और हर बार की तरह इस साल भी वह उस लड़की से मिलने की उम्मीद में उसी जगह पर वापस जाने की सोच रहा था। सेंटियागो कहता था कि हमें लाइफ में किसी भी चेंज के लिए रेडी रहना चाहिए।

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

उसे एक ही सपने दो बार आया जब रात में वह एक चर्च के एक टूटे हुए कमरे में सो रहा था जहाँ पर एक बड़ा-सा साईंकामोर का पेड़ था। फिर वह एक लेडी से मिलने तारीफा नाम के शहर में गया जो सपने का मतलब बताती थी। तो उस औरत ने उस लड़के के सपने का मतलब बताया कि उसे ईजिप्ट के पिरामिड जाना चाहिए जहाँ उसे एक खजाना मिलेगा और जब वह उस खजाने को ढूँढ़ ले तो उसका दसंवा हिस्सा फीस के तौर पर वह उसे दे दे।

लेकिन उस लड़के ने इस बात पर ज़्यादा ध्यान नहीं दिया और शहर में घूमने लगा तभी उसे एक बूढ़ा आदमी मिला। पहले तो सेंटीयागो को उससे बात करने में ज़रा भी इंटरेस्ट नहीं था लेकिन उस बूढ़े आदमी के ज्ञान से वह बढ़ा प्रभावित हुआ और वे दोनों बाते करने लगे। उस बूढ़े आदमी ने बताया कि वह सालेम का राजा है। उसने सेंटियागो को ये भी बताया कि वह अक्सर लोगों को उनकी डेस्टिनी तक पहुँचने में किसी ना किसी तरह से हेल्प करता रहता है। क्योंकि सेंटियागो अपनी डेस्टिनी तक पहुँचने से पहले ही हार मान ली थी इसलिए वह उसे सही रास्ता दिखाने के लिए उसके पास आया था।

उस बूढ़े आदमी ने उससे कहा कि लाइफ हमेशा हमें कुछ न कुछ साइन देती है ताकि हम सही रास्ते पर चल सके। फिर उसने सेंटियागो से कहा कि उसे खजाने के बारें में और जानकारी चाहिए तो उसके लिए फीस के तौर पर अपनी शीप्स का दंसवा हिस्सा देना होगा। अगले दिन सेंटियागो फिक्स टाइम पर उस बूढ़े आदमी से मिला जिसने उसे दो स्टोंस दिए और कहा की अगर अपनी मंज़िल की तलाश में उसे कभी भी कोई कन्फ्यूजन हो तो इन दोनों स्टोंस की हेल्प से वह अपना डिसीज़न ले सकता है और फिर उसी दिन वह लड़का अफ्रीका के टेंजियर नाम की जगह पहुँचा।

वहाँ पर वह एक बार में बैठा था कि एक आदमी उसके पास आया। उस आदमी में स्पेनिश में उससे पुछा कि वह इस नयी जगह में क्या करने आया है। सेंटियागो ने उसे कहा कि उसे पिरामिड्स तक जाना है और अगर वह आदमी गाइड बनाकर उसे वहाँ तक ले जाए तो वह उसे पैसे देगा।

वह आदमी सेंटियागो से पैसे लेकर बिज़ी मार्किट में कहीं गायब हो गया और सेंटियागो देखता रह गया। वह बड़ा उदास हुआ फिर अचानक उसे वह दो स्टोंस याद आये। जब उसने वह स्टोंस अपनी पॉकेट से निकाले तो उसे उस ओल्ड मेन की बात याद आ गयी। उस ओल्ड मेन ने कहा था “अगर तुम किसी चीज़ को दिल से चाहो तो ये सारी कायनात उसे तुमसे मिलाने में मदद करती है”

the alchemist in hindi

अपना पैसा खोने के बावजूद सेंटियागो ने हार नहीं मानी और अपने पास्ट एक्स्पिरियेंश से किसी तरह उस अजनबी शहर में सर्वाइव कर लिया। अब उसका सेल्फ बीलीफ़ और कोंफिड़ेंश और भी स्ट्रोंग हो गया था। फिर उसे एक क्रिस्टल व्यापारी मिला। सेंटियागो ने उस क्रिस्टल व्यापारी से कहा कि अगर वह उसे खाना खिला दे तो बदले में वह उसका कुछ काम कर सकता है। उस क्रिस्टल व्यापारी ने उसे लंच कराया और फिर उससे अपनी शॉप में रखी ग्लास की चीज़े साफ़ करने को कहा।

जब वह ग्लास साफ़ कर रहा था तो उसी टाइम शॉप में दो कस्टमर्स ने आकर कुछ सामान खरीदा। अब वह क्रिस्टल व्यापारी भी ओमेन में बीलिव करता था तो उसने सेंटियागो को हमेशा के लिए काम पर रख लिया। लेकिन सेंटियागो को वहाँ काम नहीं करना था, उसे तो पिरामिड्स जाने के लिए पैसो की ज़रुरत थी। उसकी बात सुनकर वह व्यापारी हंसा और उसने बताया कि पिरामिड्स वहाँ से हज़ारो किलोमीटर दूर है और वहाँ तक जाने के लिए ढेर सारा पैसा चाहिए। ये सुनकर सेंटियागो का इरादा बदलने लगा उसने सोचा क्यों ना काम करके इतना पैसा कमाया जाए कि वह वापस अपने गाँव जाकर शीप्स खरीदे और फिर से शेफर्ड का काम शुरू कर दे।

the alchemist in hindi

सेंटियागो ने क्रिस्टल्स के लिए एक नया केबिनेट बनवाया ताकि वह जल्द से जल्द ढेर सारा पैसा कमा सके और वापस अपने टाउन जाकर शेफर्ड का काम शुरू कर सके। फिर उसे एक और आइडिया आया क्यों ना क्रिस्टल के ग्लासों में चाय बेची जाये जिससे ज़्यादा कस्टमर अट्रैक्ट हो और इस डिसीज़न से एक बड़ा चेंज आया क्योंकि क्रिस्टल ग्लास में चाय बेचने से ये शॉप बड़ी फेमस हो गयी थी और इसे एक बड़ी कमर्शियल सक्सेस मिली।

जब सेंटियागो के पास काफ़ी पैसा जमा हो गया तो उसने अपने घर वापस जाने का डिसीजन लिया। लेकिन जाने से पहले वह शॉपकीपर से ब्लेस्सिंग्स लेना चाहता था। शॉप कीपर ने उसे ब्लेस्सिंग दी और साथ ही ये प्रेडिक्ट भी किया कि सेंटियागो वापस स्पेन नहीं जा पायेगा। उसे अचानक ख़्याल आया कि वह जब चाहे अपने देश जाकर शेफर्ड बन सकता है लेकिन पिरामिड्स जाने का मौका उसे दुबारा नहीं मिलेगा। किंग के दिए उन दो स्टोंस को देखकर उसे ये ख़्याल आया था। वह अपने डिसीज़न पर ग़ौर करने लगा। अब उसने अपना माइंड चेंज कर लिया था और पिरामिड्स जाने के लिए निकल पड़ा।

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

वो एक वेयर हाउस पहुँचा जहाँ उसे एक इंग्लिशमेन मिला जो काफ़ी बातो में सेंटियागो की तरह था। फिर वे दोनों ईजिप्ट जाने वाले एक कारवाँ के साथ-साथ चलने लगे जिसका सरदार एक दाड़ी वाला आदमी था। जर्नी के दौरान सेंटियागो की अपने ऊंट चलाने वाले से दोस्ती हो गयी और दोनों अपनी-अपनी लाइफ के बारे में एक दुसरे को बताने लगे। दोनों को एक फिलोसिफिकल ट्रूथ का एहसास हुआ। उन्हें फील हुआ कि जैसे डेस्टिनी ने हर चीज़ पहले से प्लान कर रखी है क्योंकि लाइफ में हर एक चीज़ किसी दूसरी चीज़ से जुडी हुई है।

जर्नी के बीच-बीच में उन्हें ये इन्फोर्मेशन मिली कि ट्राइबल्स के बीच में वार होने वाली है जिसे सुनकर सारे लोग डर गए थे लेकिन वापस लौटना अब पोसिबल नहीं था और जब वापस जाना मुमकिन ना हो तो आगे बढ़ते रहना ही एक पोसिबल रास्ता होता है।

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

अब उनका कारवाँ तेज़ी से आगे बढ़ता जा रहा था और वे लोग ट्राइबल वार से बचने के लिए रात-दिन बिना रुके चलते जा रहे थे और फ़ाइनली उनका कारवाँ ट्राइबल वार से बचता-बचाता किसी तरह ओएसिस तक पहुँच ही गया। फिर वह अल्केमिस्ट अपने ओमेन के सजेशन पर बड़ी बेसब्री से एक आदमी का इंतज़ार करने लगा जो उसे कुछ सीक्रेट्स बताने वाला था। अपने हथियार उतारने के बाद कारवाँ के लोगों को ओयसिस में ठहरने के लिए जगह मिली और फिर नेक्स्ट डे वह इंग्लिशमेन उस लड़के के साथ अल्केमिस्ट की तलाश में निकल पड़ा।

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

वे एक कुंए के पास पहुँचे वहाँ कुछ देर बाद उन्हें एक अनमैरिड औरत कुंए की तरफ़ आती दिखी। वह इतनी खूबसूरत थी कि सेंटियागो उसे देखता ही रह गया। सेंटियागो के पूछने पर उस लड़की ने अपना नाम फातिमा बताया। अब हर रोज़ वह उससे कुंए पर पन्द्रह मिनट के लिए मिलने जाता था जोकि उसकी लाइफ बन चुकी थी और वह लड़की भी सेंटियागो को उतना ही चाहती थी। दोनों अब बहुत क्लोज आ चुके थे।

सेंटियागो ने उसे अपनी लाइफ के बारे में सब कुछ बता दिया था, खजाने के बारे में भी। फातिमा ने उसे कहा कि वह खजाने की तलाश ना छोड़े। उसके सामने दो रास्ते थे। या तो वह इसी ओएसिस में रहकर अपने सवालों के ज़वाब ढूढे या फिर डेजर्ट का रास्ता पकड़े। लेकिन फिर से एक बार वह इस खजाने की तलाश में निकल पड़ा। इस टाइम तक काफ़ी अँधेरा हो चूका था तभी उसे एक और ओमेन दिखा। दो बाज़ उसके उपर से उड़ रहे थे कि तभी एक ने दुसरे पर अटैक किया जिसकी वज़ह से उस ओमेन का इंटरप्रेशन ये था कि ओएसिस पर अटैक होगा।

सेंटियागो ने ये बात जाकर चीफ को बताई। चीफ ने अपने साथियों से कंसल्ट किया और इस ख़बर की सच्चाई टेस्ट करने की सोची। सेंटियागो को बोला गया कि नेक्स्ट डे सब लोग वार के लिए रेडी रहेंगे और अगर उसकी अटैक वाली बात सच हुई तो सेंटियागो को रिवार्ड दिया जाएगा और अगर उसकी बात झूठ निकली तो बदले में सेंटियागो को अपनी जान से हाथ धोना पड़ेगा और नेक्स्ट डे उन पर सचमुच अटैक हुआ।

लेकिन ओयसिस में रहने वाले भी पूरी तरह रेडी थे और सिर्फ़ आधे घंटे में ही उनके लीडर को छोड़कर सारे अटैकर्स मारे गए। सेंटियागो को ईनाम में 50 गोल्ड कोइंस मिले और साथ ही उसे ट्राइब का काउंसिलर बनाने की भी बात हुई। लड़ाई अब ख़त्म हो चुकी थी इसलिए सेंटियागो अल्केमिस्ट से मिलने गया जिसने उसे अपने टेंट में डिनर के लिए इनवाईट किया था। उसने सेंटियागो को खजाने की तलाश में पिरामिड जाने के लिए कहा। लेकिन जब सेंटियागो ने कहा कि उसे खजाने के तौर पर फातिमा मिल गयी है तो अल्केमिस्ट ने उसकी बात काटी उसने सेंटियागो से कहा कि उसे फातिमा पिरामिड से नहीं मिली इसलिए वह खजाना नहीं हो सकती है।

सेंटियागो ने फिर से एक बार मन बनाया कि वह अपनी डेस्टिनी फोलो करेगा और यही बात उसने अल्केमिस्ट को भी बताई और नेक्स्ट डे वे दोनों सूरज उगने से पहले अपनी जर्नी पर निकल पड़े। वे डेजर्ट में घुमते रहे। फातिमा की जुदाई में सेंटियागो का दिल भारी हो रहा था। अल्केमिस्ट ने उससे कहा कि वह पुरानी बाते भूल कर आगे बड़े। अगर फातिमा का प्यार उसके नसीब में लिखा है तो उसे ज़रूर मिलेगा।

लड़का उस डेजर्ट में अपनी डेस्टिनी की तरफ़ बढ़ रहा था और इसका हर मोमेंट उसके लिए मायने रखता था। अब तक अपने पास्ट के एक्स्पिरियेंश से उसने काफ़ी कुछ सीख लिया था और वह आज जो कुछ भी था, जहाँ पर भी था, अपनी लर्निंग की वज़ह से ही था। ये सब लाइफ की एक बड़ी प्लानिंग का पार्ट था, ये प्लानिंग अनदेखे हाथो ने लिखी थी जो सबकी लाइफ की प्लानिंग लिखते है। हार्ट ने ये सीखा कि सफरिंग और फेलियर का डर एक्चुअल सफरिंग और फेलियर से बड़ा होता है। ये सब जानकार अब सेंटियागो का मन शांत था। ये सब उसने अल्केमिस्ट से शेयर किया तो उसने कहा कि अब वह अपनी डेस्टिनी के लिए पूरी तरह प्रीपेयर है।

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

उन्हें एक ट्राइब ने घेर लिया था। वे लोग उन्हें अपने चीफ के पास ले गए और पूछताछ शुरू कर दी। जान बचाने के लिए अल्केमिस्ट ने सेंटियागो का सारा गोल्ड उन लोगों को दे दिया और साथ ही ये भी कहा कि उस लड़के में ऐसी पॉवर है कि वह उन्हें हवा बनके दिखा देगा और अगर ऐसा नहीं हुआ तो वह लोग उन्हें तीन दिन में मार सकते है।

अब ये बात सेंटियागो के लिए कुछ ज़्यादा हो गयी थी, वह बहुत डर गया था कि आगे क्या होगा। पहले दिन के ख़त्म होने पर सेंटियागो ने अल्केमिस्ट से कहा कि उसे हवा बनना नहीं आता। इस पर अल्केमिस्ट ने जवाब दिया कि वह उसकी प्रॉब्लम है क्योंकि उसे तो ये जादू आता है। दुसरे दिन वह लड़का दिनभर एक माउन्टेन के ऊपर बैठा रहा और डेजर्ट से बाते करता रहा और आख़िर में उनसे ऊपरवाले की हेल्प से ख़ुद को हवा में बदल कर दिखा दिया।

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

सब हैरान रह गए और सेंटियागो शर्त जीत गया। उसे और अल्केमिस्ट को छोड़ दिया गया। चलते-चलते वे लोग एक मोनेस्ट्री पहुँचे। अल्केमिस्ट ने उसे एक रास्ता दिखाया जो गोल्ड में टर्न हो सकता था। दोनों वहाँ से अलग हो गए। अल्केमिस्ट वापस ओएसिस में लौट गया और सेंटियागो खजाने की तलाश में आगे चलता रहा। वह अपने दिल की सुन रहा था और आगे बढ़ता जा रहा था और फाइनली वह पिरामिड्स तक पहुँच ही गया। अपनी मंज़िल देखकर वह रो पड़ा और जहाँ पर उसके आंसू गिरे वहाँ उसे एक बीटल दिखा जोकि उस इलाके में गॉड का सिम्बल माना जाता था।

उसे ये एक और ओमेन लगा और उसने वहाँ पर खोदना शुरू कर दिया। उसने काफ़ी गहरे तक खोदा मगर कुछ नहीं निकला। तभी उसके पास कुछ लोग आये उन्होंने सेंटियागो का वह सारा गोल्ड छीन लिया जो उसे अल्केमिस्ट ने पार्टिंग गिफ्ट के तौर पर दिया था।

उन्होंने सेंटियागो की ख़ूब पिटाई की और उसे गहरा खोदने के लिए बोला। जब लड़के ने उन्हें बताया कि उसने ड्रीम में यहाँ पर खजाना गड़ा हुआ देखा था तो उन लोगों को लगा कि यहाँ उन्हें कुछ नहीं मिलने वाला क्योंकि सपने कभी सच नहीं होते। जाते-जाते उनके चीफ ने उससे कहा कि उसने भी एक ड्रीम देखा था कि स्पेन के एक चर्च के अंदर खजाना छुपा है जहाँ एक टूटे हुए कमरे में साईंकामोर का पेड़ उगा है। ये बोलकर वह चीफ और उसके साथी वहाँ से चले गए।

और पढ़ें

Brain Rules Book Summary in Hindi by John Medina

The Alchemist Book Summary in Hindi–खजाना ढूँढने की कहानी

लड़का ख़ुशी से हसने लगा क्योकि ये वही जगह थी जहाँ उसे ईजिप्ट के खजाने का सपने आया था। तो वाकई में कोई खजाना था लेकिन उसे पाने का रास्ता इतना लंबा था उसे पहले डेजर्ट में पिरामिड्स तक पहुँचना था फिर किसी और के थ्रू उसके बारे में जानना था। अगर उसने अपनी डेस्टिनी फोलो नहीं की होती तो शायद उसे कभी भी उस खजाने का पता नहीं चल पाता जो उसके अपने ही देश में छुपा था।

सेंटियागो चर्च में गया और खजाने को खोद निकाला। फिर वह उस जिप्सी औरत के पास गया जिसे उसने वन टेंथ देने का प्रोमिस किया था। उसके बाद उसे हवा में वह ख़ुशबू महसूस हुई जो उसे बड़े अच्छे से याद थी और जो अभी उसके होंठो पर एक याद बनकर बैठी थी। ये ख़ुशबू थी फातिमा की। उसने अपने प्यार को बड़ी ज़ोर से आवाज़ दी “मै आ रहा हूँ, फातिमा!”

तो दोस्तों आपको आज का यह समरी (The Alchemist Book Summary in Hindi – खजाना ढूँढने की कहानी) कैसा लगा नीचे कमेंट करके ज़रूर बताये और इस (The Alchemist Book Summary in Hindi) को अपने दोस्तों के साथ share करना न भूले। अगर आप इस बुक का कम्पलीट वीडियो समरी देखना चाहते है तो ऊपर दिए लिंक से देख सकते है।

हमारे लेटेस्ट वीडियो को देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करना न भूले।

S.K. Choudhary

नमस्कार दोस्तों, हमारे इस ब्लॉग में आपका स्वागत है, मेरा नाम है S.K. Choudhary (ऐस. के. चौधरी) और मैं एक ब्लॉगर और यूटूबर हूँ। में एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता हूँ और मेरा highest एजुकेशन MBA Finance है। मुझे पढ़ने और पढ़ाने का शोख है इसलिए में पार्ट टाइम मैं ब्लॉग लिखता हूँ और यूट्यूब के लिए बुक समरी और मोटिवेशनल वीडियो बनता हूँ।

Leave a Comment